नए लोग स्टॉक मार्किट में Invest कैसे करे | शेअर बाजार का पूरा इतिहास

Sensex short history

नए लोग स्टॉक मार्किट में Invest कैसे करे | शेअर बाजार का पूरा इतिहास अप्रैल 1991 इस स अंदर ही ये वैल्यू करीब 4460 तक पहुँच गई थी।

मतलब सिर्फ 1 साल के अंदर ही सेंसेक्स की वैल्यू लगभग चार गुना हो चुकी थी। किसी ने भी उस दौरान सेंसेक्स को इतनी तेजी से बढ़ते हुए पहले कभी नहीं देखा था।

जिन लोगों ने कभी स्टॉक मार्केट के बारे में सुना भी नहीं था, अब वो लोग भी स्टॉक मार्केट में पैसा लगाना शुरू हो गए थे। सिर्फ इसी उम्मीद में कि उनका पैसा भी इतनी तेजी से बढ़ने लगेगा, और ये ज्यादातर लोग स्टॉक मार्केट को लेकर एक्साइटेड तब होना शुरू हुए जब इन्होंने सिर्फ तीन महीने के अंदर ही सेंसेक्स की वैल्यू को डबल होते देखा।

क्योंकि जिस सेंसेक्स की वैल्यू जनवरी 1992 में सिर्फ 23 तक पहुंची थी। वो अप्रैल 1992 में बढ़कर 4460 के करीब पहुँच चुकी थी। जस्ट डबल लोग समझ नहीं पा रहे थे कि आखिर ये हो क्यों रहा है? बस हर कोई अपने पैसों को डबल करने की फिराक में था और मार्केट में एक स्टॉक ऐसा था। जिसपर बड़े बड़ों की नजर थी।

ये स्टॉक था ACC सीमेंट का सिर्फ तीन महीने के अंदर ही स्टॉक की कीमत 200 से बढ़कर 9000 तक पहुँच गई थी। लोगों को सिर्फ 90 दिनों के अंदर ही इस स्टॉक से 4400% का रिटर्न मिला था। पता है ये कितना होता है? अगर आपने तब एसीसी सीमेंट में सिर्फ ₹1,00,000 इन्वेस्ट किये होते तो बस 90 दिनों के अंदर ही आपके ये ₹1,00,000 45,00,000 बन जाते।

मतलब 4400% का रिटर्न मिलता। अब लोगों को लगने लगा कि जल्दी से अमीर बनने का अगर कोई तरीका है तो वो हैं स्टॉक मार्केट। पता है फिर क्या हुआ हम जैसे की मिडल क्लास लोगों ने एसीसी सीमेंट और ऐसे ही कुछ कंपनी के शेयर खरीदने शुरू कर दिए, पर यह खुशी ज्यादा दिन टिकने वाली नहीं थी, क्योंकि वही हुआ जिसका अंदाजा कुछ एक्स्पर्ट पहले ही लगा चूके थे।

Scam 1992

मई 1992 में सेंसेक्स गिरकर 3000 तक पहुँच गई और फिर अगस्त 1992 में ये वैल्यू गिरकर 25 तक पहुँच चुकी थी। और वो सारे शेर जिनपर लोगों का खूब सारा पैसा लगा था वो सब डूब गए।

कई लोग बर्बाद हो चूके थे और खासकर मिडिल क्लास फैमिलीज, इस पूरे क्रैश का रीज़न था एक स्कैम यही था वो हर्षद मेहता स्कैम ऑफ 1992 सिर्फ एक इंसान ने पूरी मार्केट हिला कर रख दी थी।

लेकिन ऐसा भी नहीं था की इंडिया का इकलौता स्टॉक मार्केट क्रैश सिर्फ यही था क्योंकि इसके बाद भी हम इंडियंस ने कुछ स्टॉक मार्केट क्रैश देखिए जैसे कि 2008 का स्टॉक मार्केट क्रैश।

और फिर इन्हीं कुछ वजहों से स्टॉक मार्केट को जुआ एक सत्ता समझा जाने लगा। लोग स्टॉक मार्केट में पैसा लगाने से डरने लगे और आज भी ज्यादातर लोग अपने पैसे को सिर्फ बैंक में रखकर ही खुश है न कि लोग अब सिर्फ पैसे बचाने में विश्वास रखते हैं पर उनको इन्वेस्ट करने में नही।

 

जरूर पढ़ें:-

Earbuds के यूजर्स के लिए AMANI ASP i12 TWS ईयरबड्स लॉन्च करने का हुआ एलान

एक बेहतर पाठक कैसे बनें पढ़ने के 5 नियम | किताबों को प्रभावी ढंग से कैसे पढ़ें

5G तकनीक क्या है? | 5G full detail in hindi

chori hua mobile याफिर khoya hua mobile kaise khoje Finde My Phone

आपको निवेश क्यों करना चाहिए

क्या आज भी ऐसी सोच रखना सही है? नहीं, क्योंकि कितना अपने कमाया उससे ज्यादा इम्पोर्टेन्ट है की आपने कितना बचाया? और कितना बचाया इससे भी ज्यादा इम्पोर्टेन्ट है की जो बचाया उसको किस तरीके से इन्वेस्ट किया।

अगर स्टॉक मार्केट इतना ही कॉम्प्लेक्स होता तो ये सक्सेसफुल लोग कभी पैसा इन्वेस्ट करने की सलाह नहीं देते। स्टॉक मार्केट और इन्वेस्टमेंट करने के तरीके अब पहले जैसे नहीं रहे। चीजें बदल चुकी हैं और इन्वेस्टमेंट अब एक ऑप्शन नहीं बल्कि एक नीड बन चुकी है।

चलो अब बात करते हैं कुछ फ़ैक्ट्स के बारे में। आप लोगों ने एचडीएफसी कॉर्पोरेशन का नाम तो सुना ही होगा, है ना? सन् 2000 के जनवरी के महीने में इस शहर का प्राइस था ₹28.60 और इस प्राइस पर अगर किसी ने अपने ₹1,00,000 एचडीएफसी कॉर्पोरेशन में इन्वेस्ट किये होते तो आज उन ₹1,00,000 की वैल्यू ₹99,00,000 होती है। ऑलमोस्ट 9900% का रिटर्न चलो एक और केस बताता हूँ।

ये कंपनी है बिरला कॉर्पोरेशन सन 2000 जनवरी के महीने में इस कंपनी के एक शहर का प्राइस था लगभग ₹30.50 और अगर किसी ने अपने ₹1,00,000 तक बिरला कॉर्पोरेशन में इन्वेस्ट किये होते तो आज उन ₹1,00,000 की वैल्यू होती लगभग ₹50,00,000 बताओ कौन से बैंक या कौनसे सेविंग्स अकाउन्ट में अपने पैसे रखकर आपको ऐसा रिटर्न मिल सकता है?

इंग्लिश में कहावत है that no one ever become a millionaire by keeping their money in saving account but ये जानने के बाद भी लोग इन्वेस्ट क्यों नहीं करते हैं?

इसके दो मेजर रीज़न से पहला कई लोग उन कंपनीज़ के बारे में जानते नहीं हैं जिनमें उन्हें इन्वेस्ट करना चाहिए और दूसरा कि आज के टाइम पर अच्छी कंपनी के स्टॉक प्राइस ज्यादा ही है,

जीस वजह से जो लोग कम पैसे से इन्वेस्टमेन्ट शुरू करना चाहते है वो इन्वेस्ट कर ही नहीं पाते तो इसका सलूशन क्या है?

इसका एक सबसे इज़ी सॉल्यूशन है टु इन्वेस्ट इन US स्टॉक्स पता है क्यों? क्योंकि आपको टेस्ला के बारे में जितना पता है शायद आपको हीरो मोटर कॉर्प के बारे में आज उतना नहीं पता होगा।

थिंक अबाउट इट आप सीरीज नेटफ्लिक्स पे देखते हो रिसर्च गूगल पे करते हो, सोशल नेटवर्किंग के लिए फेसबुक और इंस्टाग्राम यूज़ करते हो तो ओब्विअस्ली आपको इन यूएस कंपनी के स्टॉक्स को खरीदने से पहले ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

खुद बताओ आप गूगल का स्टॉक खरीदने से पहले ज्यादा सोचोगे या बिरला कॉर्पोरेशन का स्टॉक खरीदने से पहले हैं। इसलिए सबसे पहली चीज़ जैसे ही आप यूज़ स्टॉक्स में इन्वेस्ट करने के बारे में प्लैन करोगे आपकी टेंशन ऑटोमैटिकली कम हो जाएगी क्योंकि आप इन ज़्यादातर कंपनीस के बारे में ऑलरेडी पहले से ही जानते होंगे।

दूसरी चीज़ मान लो आपके पास हर महीने से ₹500 बचते हैं तो क्या ये इन्वेस्ट ना करने का एक बहाना बन सकता है? हाँ, पर सिर्फ तभी जब आपको एक कंपनी का पूरा शेयर खरीदना कंपलसरी हो। बट आज के टाइम पर ये कंपल्शन भी खत्म हो चुकी है क्योकि अगर आप US Stocks में Invest करना कहते हो ओर आपके पास ज्यादा पैसे नही है तो इन्वेस्टमेंट apps के जरिये इन्वेस्ट कर सकते हो और अपने पैसे को grow कर सकते हो।

अगर आपको यह नए लोग स्टॉक मार्किट में Invest कैसे करे | शेअर बाजार का पूरा इतिहास लेख पसंद आया है तो आप कमेंट करके हमे बता सकते हो और आपको किस चीज पर जानकारी चाहिए ये यह भी बता सकते हो धन्यवाद।

नमस्ते दोस्तों मेरा नाम Akash Sawdekar है the24hindi.com का Author हु। दोस्तों मुझे Internet पर जानकारी पढ़ना बोहत पसंद है, अगर आपको भी मेरी तरा जानकारी पढ़ना अच्या लगता है तो आप इस Site को Subscribe कर सकते हो धन्यवाद।

3 thoughts on “नए लोग स्टॉक मार्किट में Invest कैसे करे | शेअर बाजार का पूरा इतिहास”

Leave a Comment