ATM Full Form | ATM कैसे काम करता है | ATM Full Form In Hindi

 ATM का Full Form क्या है और ATM Machine कैसे काम करती है।

आपने ATM का इस्तमाल कबिनाकबी किया होगा ATM से पैसे कबिनाकबी निकाले होंगे। लेकिन कबि आपने सोच्या है ATM Ka Full Form Kya hai? ATM Machine काम कैसे करती है? एटीएम मशीन एकदम सही तरीके से पैसे कैसे गिनती है? ATM कितने प्रकार के होते है।
अगर आपको ये नही पता है, तो इस लेख कोपडते रहिये जिससे आपको पता चल जायेगा कि ATM का फुलफॉर्म क्या है और कैसे काम करता है।
ATM के बारेमे जानना जरू है खासकर विद्यार्थियों ने क्योकि एटीएम से जुड़े सवाल परीक्षा में आते ही है और अगर आप इस लेख को पढ़ते हो तो आपकी General Knowledge भी बढ़ेगी।
आजकल सबसे बड़ी एटीएम के बारेमे गलतफ़हमी है ओ है ATM Full Form कही लोगोको को लगता है ATM Full Form मतलब Any Time Money जोकि गलत है।
ATM Full Form होता है Automated Teller Machine जोकि एक दम सही है। अब हम थोड़ा विस्तार से ATM के बारे में जानेंगे।

ATM का इतिहास | History Of ATM

सबसे पहिले एटीएम London के Barclays Bank में लगया गयाथा जिसे John Shepherd Barron ने 27 जून 1967 को आविष्कार किया था। जब John Shepherd Barron एटीएम का अविष्कार किया तब उसमें 6 digit की Pin Support करतिथि लेकिन लोगोको उस 6 अंक ध्यान में रखनेमें बोहत मुश्किल होतिथि इसी लिए Pin को 6 digit से हटाकर 4 digit का करदिया गया।

भारत मे सबसे पहिला एटीएम हॉन्गकॉन्ग ओर शंघाई बैंक कारपोरेशन द्वारा 1987 में स्थापित किया गया। ओर दुनियाक सबसे पहिला फ्लोटिंग एटीएम भारत के केरल प्रदेश में स्थापित हुआ था।

आज भारत मे टोटल 2,07,813 से भी जादा एटीएम मौजूद है, जिसमे जबसे जादा एटीएम State Bank Of India के है। जोकि 60,000 से भी जादा है। ओर भारत मे टोटल 86 Crore से भी जादा ATM Debit Card है

रोमानिया में एक यैसा एटीएम मौजूद है जहाँ कोही भी व्यक्ति बिना बैंक खाते के एटीएम से पैसा निकाल सकता है।

TRP Full Form

ATM Full Form | ATM के अन्य फुलफॉर्म

जैसे कि अपने पढ़ा ATM Full Form है Automated Teller Machine पर कुछ देश और कुछ कुछ जगाओ पर इस का फुलफॉर्म अलग अलग है। नीचे सारे फुलफॉर्म की लिस्ट दी गई है।

Asynchronous Transfer Mode

Angkatan Tentera Malaysia

Air Traffic Managment

Altamira Airport

Association Of Teacher  Of Mathematics

जरुर पढ़े:

TRP Full Form | What is TRP and how to calculate?

chori hua mobile yafir khoya hua mobile kaise khoje fast method

Whatsapp se paise kaise kamaye | How to earn money with whatsapp

Top Useful Google Tips And Tricks & Amazing Eastereggs

एटीएम के पुर्जे | ATM All Parts In Hindi

एटीएम को आप दो पार्ट में डिवाइड करके समज सकते हो एक है Input Device ओर दूसरा है Output Device

Input Device में एटीएम के अंदर के पार्ट आते है जो कि हम आगे विस्तार से चर्चा करेंगे और Output Device में बाहरी पार्ट आते है जहाँपर आप एटीएम को कमांड देते हो।

◆ Input Device

 
Card Reader: एटीएम मशीन में सबसे जादा महत्वपूर्ण रोल निभाता है ओ है Card Reader, जैसे ही आप अपना कार्ड एटीएम मशीन में डालते हो तो ये Card Reader आपके कार्ड के पिछले तरफ के Magnetic Strip को स्कैन कर सारे information को बैंक के सर्वर पर भेजता है। ओर बैंक के सर्वर्स से अनुमती मिलने के बाद आपको Cash Widrawal करने की अनुमति देता है।

Keypad: keypad के जरिये आप आने पिन को एंटर कर सकते है, आप कितना अमाउंट निकलना चाहते हो उसे enter कर सकते हो, अपने प्रॉसेस को क्लियर कर सकते हो, अपने ट्रांजैक्शन को cancel कर सकते हो।

◆ Output Device

Screen: Screen आपको आपके सारे कार्य और आपके खाते से जुड़ी information (खाताधारक का नाम और इन्फॉर्मेशन) बताती है जिसे कन्फर्म करके आप अपने ट्रान्जेक्शन को सफलता पूर्वक पूरा कर सकते हो।

Speeker: ये कुछ कुछ एटीएम में ही उपलब्ध होता है जोकि आपको ट्रान्जेक्शन को पूरा करने में help ओर Audio Feedback देता है।

Cash Dispenser: ये भी एक महत्वपूर्ण डिवाइस है जिस से सारा कार्य ( Transaction) पूरा होनेकेबाद आप अपना कॅश विड्रॉ कर सकते हो।

Receipt Printer: ये एक यैसा device है जोकि आपको transaction पूरा होने के बाद एक Receipt देता है जिसमे आपके transaction सम्बंधित सारी जानकारी होती है।

तो दोस्तों इस तरासे पूरा एटीएम काम करता है।

ATM के प्रकार | Types Of ATM

Online ATM

Online ATM में आपका खाता 24 घंटे बैंक के डाटाबेस ओर सर्वर से कनेक्ट रहता है। इसी कारण आप अपने खतेसे जितनी राशि है सिर्फ उतनी ही राशि का इस्तमाल कर सकते हो।

Offline ATM:

Offline ATM में आपका खाता बैंक के डाटाबेस से कनेक्ट नही रहता ये सिर्फ कार्य के वक्त ही सर्वर से कनेक्ट होता है। Offline ATM से अपने अपने खाते में पड़ी हुई राशि से भी अधिक राशि निकल सकते हो परतु बैंक इस पे अपना व्याज लागत है। यानी कि अगर आपके खाते में राशि नही भी रहेगी ताबिभी आप खतेसे पैसा निकाल सकते हो।

On Site ATM

जो एटीएम बैंक या ब्रांच के अंदर रहता है उसे On Site ATM कहा जाता है।

Of Site ATM

जो एटीएम बैंक परिसर के बाहर यानी कि किसी बाहर के जगा होता है उसे Of Site ATM कहा जाता है।

White Label ATM

जिस एटीएम को नॉन बैंकिंग कंपनी द्वारा स्थापित किया जाता है उसे White Label ATM कहा जाता है। ये एटीएम जादातर रूरल एरिया में दिखाई देते है।

Yello Lebal ATM

ये एटीएम E-COMMERCE के आदान प्रदान के लिए इस्तमाल किया जाता है।

Orange Label ATM

ये एटीएम stock ट्रान्जेक्शन के लिए प्रदान किये जाते है।

Green Lebal ATM

ये एटीएम कृषि लेनदेन के लिए इस्तमाल किये जाते है।

ATM के फायदे | Advantages Of ATM

एटीएम की सुविधा पूरे 24 घंटे उपलब्ध रहती है और गांव हो या शहर अब हर जग एटीएम की सुविधा उपलब्ध है जिससे आप तत्काल पैसे निकाल सकते हो।

एटीएम की सुविधा का इस्तमाल करने के लिए पिन की सहायता पड़ती है अगर आपका एटीएम कार्ड कही खो जाए तो आपका कार्ड पिन के बिना कोही इस्तमाल नही कर सकता इसससे आपकी राशि सुरक्षित रहती है। ओर आप QR Code Scan करके भी आपके एटीएम से पैसे निकाल सकते हो।

बैंक के साथ आपका नंबर लिंक रहता है इससे आपके सारे एटीएम के ट्रांजैक्शन की जानकारी आपके मोबाइल पे sms के जरिये मिलती है इससे cyber crime होने की गुंजाइश ना के बराबर होती है।

QR Code स्कैन करके एटीएम से पैसे कैसे निकले?

सबसे पहले आपको ऐसे ATM पर जाना होगा जहाँ ये सर्विस सपोर्ट करती हो। इसके बाद ATM मशीन से पैसे निकलने के लिए आपको अपने स्मार्टफोन में किसी भी UPI या फिर BHIM App को ओपन करना होगा, फिर उस  App से मशीन में दिए गए  QR Code को स्कैन करना होगा।

फिर जितना आपको अमाउंट निकलना है उसे Enter करना होगा। फिर आपकी UPI App में यक Authorised मैसेज आएगा उसे एक्सेप्ट करना होगा। मैसेज अप्रूवल होने के बाद आप ATM से पैसा विथड्रॉ कर पाएंगे।

ATM पर आपके द्वारा स्कैन किए गए क्यूआर कोड सभी
डायनेमिक ओर गतिशील होते है, इसलिए वे हर लेनदेन के लिए बदलते रहते है। और उन्हें कॉपी नहीं किया जा सकता है। हर बार जब आप पैसे निकालना चाहते हैं तो आपको एक नया क्यूआर कोड स्कैन करना होगा।

यह शायद थकाऊ है लेकिन यह आपके लेनदेन को सुरक्षित करने का सबसे अच्छा तरीका है। फ़िलहाल इस नहीं सुविधा से आप 5000 रुपये तक निकल सकते है।

Conclusion

इस लेख में हमने पढ़ा ATM Full Form क्या है ATM मशीन के पार्ट्स ओर ओ कैसे काम करते है और एटीएम का इतिहास आष्या करता हु आपको ये लेख पसंद आया होगा अगर आपको कोही भी सवाल पूछना है तो अपन नीचे दिये गए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हो।
धन्यवाद।

नमस्ते दोस्तों मेरा नाम Akash Sawdekar है the24hindi.com का Author हु। दोस्तों मुझे Internet पर जानकारी पढ़ना बोहत पसंद है, अगर आपको भी मेरी तरा जानकारी पढ़ना अच्या लगता है तो आप इस Site को Subscribe कर सकते हो धन्यवाद।

1 thought on “ATM Full Form | ATM कैसे काम करता है | ATM Full Form In Hindi”

Leave a Comment